हिमाचल में कोरोना से पहली मौत, अमरीका से धर्मशाला लौटा था व्यक्ति, प्रारंभिक रिपोर्ट में पुष्टि

Edited By: हिमाचल एक्सप्रेस डेस्क
अपडेटेड: 2 weeks ago IST

डॉ. राजेंद्र प्रसाद मैडिकल कालेज एवं अस्पताल टांडा में मंगलवार को 69 वर्षीय एक तिब्बती नागरिक की मौत के बाद लिया गया सैंपल पॉजीटिव पाया गया है। टीएमसी की लैब में प्राथमिक जांच में मृतक व्यक्ति में वायरस की पुष्टि हुई है। हालांकि इस रिपोर्ट को पुख्ता करने के लिए सैंपल अब पुणे लैब में भेजा जाएगा। अब प्रशासन और ज्यादा अलर्ट हो गया है। मृतक तिब्बती नागरिक अमरीका से दिल्ली होते हुए 21 मार्च को ही मैक्लोडगंज पहुंच था। रविवार से उक्त व्यक्ति की तबीयत खराब हो रही थी तथा सोमवार को ज्यादा स्वास्थ्य खराब होने के बाद उसे पहले निजी अस्पताल तथा उसके बाद टीएमसी के आइसोलेशन वार्ड में ले जाया गया था लेकिन उपचार के बाद उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक तिब्बती नागरिक 15 मार्च को अमरीका से दिल्ली पहुंचा था। दिल्ली से वह 21 मार्च को टैक्सी से मैक्लोडगंज पहुंचा। इस दौरान उक्त व्यक्ति तथा उसके परिवार के सदस्यों ने भी उक्त व्यक्ति की जानकारी प्रशासन को नहीं दी थी। सोमवार को व्यक्ति का स्वास्थ्य खराब होने के बाद परिवार के सदस्य उसे पहले कांगड़ा के एक निजी अस्पताल में ले गए लेकिन वहां पर उसकी स्थिति को देखते हुए निजी अस्पताल ने टांडा के लिए रैफर कर दिया। व्यक्ति को सांस लेने की तकलीफ हो रही थी।

टीएमसी में उपचार के दौरान व्यक्ति की मौत के बाद प्रशासन ने भी एहतियात के तौर पर मृतक व्यक्ति के कोरोना वायरस सबंधित लक्षणों की जांच को लेकर सैंपल लिए थे। टीएमसी की लैब में सैंपल की प्रारंभिक जांच में मृतक में अब वायरस होने की पुष्टि हुई है। टांडा अस्तपाल के एमएस डॉ. सुरिंद्र सिंह भारद्वाज ने बताया कि मंगलवार को लाए गए तिब्बती नागरिक की कोरोना वायरस की अस्पताल में जांच को लिया गया सैंपल पॉजटिव आया है। अब इस रिपोर्ट को पुख्ता करवाने के लिए मृतक का सैंपल पुणे लैब में भेजा जाएगा।

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें