बिलासपुर : कोट पुलिस थाना के SHO Suspend, डेढ़ साल से नहीं पकड़ा था NDPS का एक भी केस

Edited By: हिमाचल एक्सप्रेस डेस्क
अपडेटेड: 2 months ago IST

डेढ़ साल में एनडीपीएस का एक भी केस ना पकड़ना जिला बिलासपुर के पुलिस थाना कोट में कार्यरत एसएचओ को महंगा पड़ गया। ऊना से ट्रांसफर होकर आए बिलासपुर के नए एसपी दिवाकर शर्मा ने एसएचओ को सस्पेंड कर दिया है। एसपी ने औचक निरीक्षण के दौरान एनडीपीएस एक्ट के तहत एक भी मामला ना पकड़े जाने पर यह कार्रवाई अमल में लाई, साथ ही एसएचओ के खिलाफ विभागीय जांच भी बिठा दी गई है, जिसका जिम्मा एएसपी को सौंपा गया है।

बिलासपुर के नए एसपी दिवाकर शर्मा नयनादेवी चौकी, ग्वालथाई चौकी के बाद थाना कोट का औचक निरीक्षण करने पहुंचे थे। वहां उन्होंने रिकार्ड चेक किया और पुलिस द्वारा नशे के खिलाफ की जा रही कार्रवाई को लेकर जानकारी हासिल की साथ ही संबंधित क्षेत्र की वास्तविक स्थिति को भी जांचा। इस दौरान उन्होंने पुलिस थाना कोट का रिकार्ड चेक करते हुए पाया कि वर्ष 2019 में थाना कोट के तहत एनडीपीएस के 15 मामले दर्ज हुए हैं और ये मामले पुलिस की एसआईयू टीम द्वारा पकड़े गए हैं। इसमें थाना कोट के प्रभारी (एसएचओ) ने पिछले डेढ़ वर्षों से एनडीपीएस का एक भी केस नहीं पकड़ा था। इस पर उन्होंने तुरंत कार्रवाई करते हुए एसएचओ को सस्पेंड कर दिया।

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें