जयराम ठाकुर की कैबिनेट में कांगडा जिले की जय, मिले सर्वाधिक 4 मंत्री

Edited By: हिमाचल एक्सप्रेस डेस्क
अपडेटेड: 2 years ago IST

विपिन सिंह परमार ( 54) स्नातक है। कॉलेज के दिनों में ही विद्यार्थी परिषद का दामन थामा था। वे 1980 में हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ अध्यक्ष भी रहे हैं। परमार दो बार राज्य बीजेपी के महासचिव भी रहे हैं। वर्तमान में वे हिमाचल प्रदेश बीजेपी कांगड़ा चंबा युवा मोर्चा के अध्यक्ष हैं। वह 1999 से 2003 तक हिमाचल प्रदेश के खादी बोर्ड के चेयरमैन रहे हैं। विपिन सिंह परमार कांग्रेस के प्रत्याशी जगजीवन पॉल को 10291 मतों के अंतर से हरा कर तीसरी बार विधानसभा पहुंचे है।

सरवीण चौधरी (51) ने 1992 में राजनीति में प्रवेश के बाद सरवीण शाहपुर से चौथी बार जीत कर विधानसभा पहुंची है। इस बार उन्होंने निर्दलीय विजय सिंह मानकोटिया को हराया।

विक्रम सिंह ठाकुर (53) स्नातक शिक्षित है। विक्रम ठाकुर को राजनीति विरासत में नहीं मिली। विक्रम ठाकुर ने पहली बार वह 2003 में जसवां जो अब जसवां परागपुर के नाम से जाना जाता है, से जीत हासिल की। वह प्रदेश भाजयुमो के उपाध्यक्ष भी रहे हैं। वह खादी बोर्ड और प्रदेश वन निगम के उपाध्यक्ष पद पर भी रहे हैं। 2017 के चुनाव में विक्रम ने कांग्रेस के प्रत्याशी सुरेंद्र सिंह मनकोटिया को 1862 मतों के अंतर से हराया।

किशन कपूर धर्मशाला से जीत हासिल कर पांचवीं बार विधानसभा पहुंचे हैं। किशन कपूर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में हैं। 1990 में पहली बार चुनाव जीतने वाले कपूर धूमल मंत्रिमंडल में परिवहन मंत्री रह चुके हैं। इस बार उन्होंने वीरभद्र सरकार में मंत्री सुधीर शर्मा को हराया।

Loading...

loading...

अन्य ख़बरें