Loading...

बदहाल सड़कों के हिचकोलों से ओद्यौगिक घरानों की हालत पतली हो जाएगी : राजेंद्र राणा

Edited By: रजनीश शर्मा
अपडेटेड: 3 weeks ago IST

खराब सड़कों को लेकर विधायक राजेंद्र राणा ने प्रदेश सरकार पर तंज कसते हुए कहा है कि हवा से बातें करने वाली सरकार जमीन पर भी कभी उतर कर देखे । सुजानपुर के विधायक  राजेंद्र राणा  ने  कहा है कि सरकार ने इन्वेस्टर मीट की तैयारियां तो बड़े जोरों-शोरों से शुरू की है लेकिन सड़कों की हालत नहीं सुधारी है। उन्होंने इन्वेस्टर मीट को सरकार का ढकोसला करार देते हुए कहा कि इसके आयोजन से पहले सड़कों को सुधारा जाना चाहिए था, क्योंकि बदहाल सड़कों पर लगने वाले हिचकोलों से यहां आने वाले ओद्यौगिक घरानों की हालत पतली हो जाएगी।ऐसे में बेहतर रहेगा कि समय रहते मुसीबत बन चुकी इन सड़कों की हालत सुधार ले, ताकि बाहरी लोगों के सामने प्रदेश को शर्मसार न होना पड़े।उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर की पक्की सड़कों की हालत तो कच्ची सड़कों से भी बदतर हो चुकी है जिनकी सुध लेने की सरकार से उम्मीद ही नहीं है लेकिन राष्ट्रीय उच्चमार्गों व राज्य उच्चमार्गों की हालत भी पतली हो गई है।राजेंद्र राणा ने  कहा कि सड़कों में गड्ढों ने प्रदेश की इन जीवनदायिनी सड़कों को हादसों की चलती-फिरती मौत का तमगा दे दिया है।उन्होंने चिंता जताई कि रोजाना दर्जनों लोग इन डरावनी सड़कों की बदहाली के कारण चोटिल हो रहे हैं लेकिन सरकार सोई हुई है, जिसे अपने ऐशोआराम के सिवाये जनता की पीड़ा का कोई एहसास नहीं हो रहा है।उन्होंने कहा कि खराब सड़कों की हालत से परेशान जनता के सड़कों पर उतरने से पहले प्रदेश सरकार तुरंत कार्यवाही अमल में लाए, अन्यथा गहरी नींद में सोई सरकार को जगाने के लिए कांग्रेस पार्टी जन आंदोलन खड़ा कर धरना-प्रदर्शन शुरू करेगी।

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें