Loading...

कांग्रेस प्रवक्ता दीपक शर्मा सरकार पर हुए हमलावर, कहा भाजपा सरकार का छात्रों के प्रति असंवेदनशील व्यवहार

Edited By: रजनीश शर्मा
अपडेटेड: 2 weeks ago IST

छठी बार प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता बने दीपक शर्मा के  भाजपा सरकार पर हमले तेज़ हो गये हैं। जय राम सरकार को विभिन्न मुद्दों पर घेरने वाले दीपक शर्मा ने इस बार सरकार के छात्रों के प्रति असंवेदनशील व्यवहार को लेकर तीखा हमला किया है। हमीरपुर से जारी प्रेस बयान में दीपक शर्मा ने कहा कि गत दिन शिमला में एनएसयूआई के छात्रों के साथ बदसलूकी और हिंसक व्यवहार भाजपा सरकार के छात्रों के प्रति असंवेदनशील व्यवहार को दर्शाता है जिसकी कांग्रेस पार्टी कड़े शब्दों में निंदा करती है।उन्होंने कहा कि ये छात्र प्रदेश में लाखों छात्रों के हितों से सम्वन्धित मुद्दों को सरकार के समक्ष रखना चाहते थे लेकिन सरकार ने शिमला में उनसे मिलने के बजाए धक्का-मुक्की की।छात्राओं को भी नहीं बख्शा,उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया।ये सरकार की छात्रों के प्रति असंवेदनशीलता को दर्शाता है।कांग्रेस नेता ने कहा कि भाजपा सरकार शिक्षण संस्थानों का भगवांकरण करके अपने छुपे हुए एजेंडे को ही बाहर ला रही है।स्कूलों में दिए जाने वाले बस्तों के ऊपर अपने नेताओं मोदी और जयराम के फोटो चस्पा करके खुल्लमखुल्ला राजनीति कर रही है जिसका कांग्रेस विरोध करती है।दीपक शर्मा ने कहा कि संघ के एजेंडे को लागू किया जा रहा है और शिक्षा का स्तर दिनप्रतिदिन गिर रहा है।

दीपक शर्मा ने कहा कि छात्रों को भी लेपटॉप नहीं दिए गए।स्कूलों में बर्दियाँ देने का मामला भी अधर में है।सरकार ने घोषणा की थी कि विभीन्न नौकरियों के आवेदन देने की प्रक्रिया में लड़कियों को कोई भी आवेदन फीस नहीं देनी पड़ेगी लेकिन ये फरमान भी मात्र जुमला ही साबित हुआ।पटवारियों की भर्ती के लिए जो आवेदन महिलाएं कर रही हैं उनको आवेदन शुल्क के रूप में तीन सौ-तीन सौ रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं।जबकि सरकार ने इसे महिलाओं के लिए निशुल्क करने की घोषणा की थी। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस इन सब मुद्दों पर चुप नहीं बैठेगी और सड़कों पर उतर कर विरोध करेगी।

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें