Loading...

पति और दो साल के मासूम को सोता छोड़ महिला ने लगाया फंदा

Edited By: हिमाचल एक्सप्रेस डेस्क
अपडेटेड: 4 weeks ago IST

पुलिस थाना घुमारवीं के तहत कुठेड़ा में एक प्रवासी महिला ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। महिला मजदूरी का काम करती थी। जिसकी पहचान आशा देवी पत्नी शिशु पाल मुरादाबाद के रूप में हुई है। वहीं, घुमारवीं पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर आगामी जांच शुरू कर दी है। थाना प्रभारी राकेश रॉय ने बताया कि आशा की शादी शिशुपाल से 4 साल पहले हुई थी, तब से ही दोनों के बीच थोड़ा मन मुटाव चल रहा था। जिसके चलते उनके बीच कई बार झगड़ा भी हुआ। झगड़े से तंग आकर महिला अपनी बहन के घर चली गई और वहां रहकर मजदूरी का काम करती रही। उन्होंने बताया कि उसका पति बाद में उसे मना कर वापस कुठेड़ा ले आया। बीती रात को महिला की मां का मुरादाबाद से फोन आया और कहा कि तू हमें बिना बताए अपने पति के घर चली गई। मां से बात करने के बाद महिला कमरे से बाहर सड़क की तरफ चली गई, जिसे उसका पति मनाकर कमरे में ले आया। रात को खाना खाकर अपने 2 साल के बेटे के साथ सो गया। सुबह देखा तो आशा ने कमरे में एक कुंडे से रस्सी लगाकर सिलेंडर पर चढ़कर फंदा लगा लिया था।

घटना के बाद महिला के पति ने मकान मालिक चुनी लाल को इस बारे में जानकारी दी। मकान मालिक ने कुठेड़ा पंचायत के उपप्रधान और घुमारवीं पुलिस को घटना की जानकारी दी। मौके पर पहुंची घुमारवीं पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है। वहीं, डीएसपी घुमारवीं राजेंद्र जाम्बल ने बताया कि उन्होंने खुद मौके पर जाकर हर पहलू को ध्यान से देखा है। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस हर पहलू पर गंभीरता से जांच कर रही है।

 

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें