सीएम की शांता के शांता मंत्रणा

Edited By: कविता मिन्हास,पालमपुर
अपडेटेड: 6 months ago IST

धर्मशाला से शिमला को रवाना होते हुए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पूर्व सांसद शांता कुमार से मुलाकात करने उनके निवास पर पहुंचे। दोनों नेताओं ने अकेले में करीब एक घंटे तक मंत्रणा की। जयराम ठाकुर ने कहा कि हर मुलाकात का मकसद राजनीतिक नहीं होता है। मुलाकात में संगठन ये सरकार से संबंधित मुद्दों पर चर्चा की गई है। उन्होंने कहा कि धर्मशाला उपचुनाव को लेकर भी बातचीत हुई है। धर्मशाला से पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल का नाम चर्चा में आने को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि उपचुनाव हैं तो बहुत से नाम सामने आ रहे हैं लेकिन ऐसे विशयों पर अंतिम फैसला पार्टी आलाकमान ही करती है। धर्मशाला के दूसरी राजधानी के मसले पर मुख्यमंत्री ने सिर्फ यही कहा कि धर्मषाला उनके दिल में है। उन्होंने सौरभ वन विहार के बारे में कहा कि मानसून के बाद इसपर काम किया जाएगा जिसे लेकर अधिकारियों से बातचीत की गई है। उन्होंने कहा कि पालमपुर नगर निगम के गठन पर भी विचार किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेष में विकास के लिए एमओयू किए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री व शांता कुमार की इस मुलाकात के दौरान अन्य कोई भी नेता उनके साथ मौजूद नहीं था।

पूर्व सांसद शांता कुमार ने मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री कुछ देर के लिए लिफ्ट में फंस गए। हुआ यूं कि शांता से कुमार से मिलने के बाद जब सीएम जयराम ठाकुर शांता कुमार के साथ लिफ्ट से नीचे जाने लोग तो लिफ्ट में लोगों की संख्या बढ़ने से भार ज्याद हो गया। इससे लिफ्ट बी रास्ते ही फंस गई इसे देख वहां कर्मचारी लिफ्ट चालू करने का प्रयास करने लगे। आखिरकार करीब पांच मिनट की मषक्कत के बाद सीएम व शांता कुमार लिफ्ट से बाहर आ सके।

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें