Loading...

उपमंडल स्वारघाट के अंतर्गत भयंकर बरसात का कहर

Edited By: रिशु प्रभाकर,बिलासपुर
अपडेटेड: a month ago IST

उपमंडल स्वारघाट के अंतर्गत भयंकर बरसात के कारण भारी नुकसान हुआ है।  बैहल में चिकनी खड्ड पर चार दिन पहले बनाया गया वैकल्पिक पुल फिर से बारिश के कारण बह गया है। ग्राम पंचायत स्वाहन के गांव भुवाई में कर्मचंद की गौशाला व इसी का एक अन्य मकान जमीदोंज हो गया है। जिस कारण पशुशाला में बंधी 2 भैसें व 3 बकरियां मकान के नीचे दब के मर गई है। वहीं पशुशाला के समीप अरबी की फसल के 7 खेत भूस्खलन में तबाह हो गए हैं।
   हिमाचल के प्रवेश द्वार स्वारघाट के पास नेशनल हाईवे चंडीगढ़ से मनाली स्वारघाट के पास जगह जगह भूस्खलन व भारी मात्रा में मलबा व पत्थर गिरने से आवाजाही के लिये बन्द हो चुका है। जिस कारण चंडीगढ़ से मनाली जाने वाले पर्यटकों के सैंकड़ों वाहन व हज़ारों पर्यटकों यातायात जाम में फंसे हुए है। स्वारघाट थाना की पुलिस व प्रशांसन की टीम मौके पर पहुँच कर नेशनल हाईवे चंडीगढ़ से मनाली को स्वारघाट के पास जगह जगह खोले जाने के लिये जेसीबी के साथ जुटे हुए हैं।
    उपमंडल स्वारघाट के अंतर्गत ग्राम पंचायत भाखड़ा के गांव भाखड़ा के वार्ड नंबर एक के निवासी राजपाल सपुत्र हंसराज का मवेशिखाना भूस्खलन की चपेट में आ गया है। जिस कारण इसकी 2 भैंसें पशुशाला के नीचे दब कर मर गई हैं। ग्राम पंचायत भाखड़ा के प्रधान प्रभात चंदेल, उप-प्रधान नरेंद्र पूरी व वार्ड नंबर एक की वार्ड सदस्य रीना देवी ने बताया कि भाखड़ा वार्ड नंबर एक के निवासी राजपाल का मवेशीखाना भयंकर बारिश के कारण जमीदोंज हो गया है। जिस कारण इसकी दो भेंसे दब कर मर गई है। पशुशाला के साथ बनाये गए टॉयलेट भी तबाह हो गए हैं। 
   उन्होंने बताया कि भाखड़ा से नंगल के लिये जाने वाले सड़क मार्ग भयंकर बारिश के कारण यातायात के लिये अवरुद्ध हो चुका है। क्षेत्र की कई सड़के भी भूस्खलन के कारण तबाह हो गई हैं।
   उधर , ग्राम पंचायत धरोट के प्रधान अवतार कृष्ण ने जानकारी में बताया है कि धरोट पंचायत में धरोट से खाला, ठुरवा हरिजन बस्ती को जाने वाली पेयजल की पाईपलाइन भूस्खलन के कारण टूट गई हैं। इसी पंचायत के गांव डैहरनी के निवासी जगतार सिंह, राम प्रकाश व सुखराम के घर से ऊपर भूस्खलन हो जाने से सारा पानी उनके घरों व आंगन में घुस आया है। इसके साथ ही धरोट गांब में लाखों की लागत से तैयार किया गया चैक डैम को टूटने से बचा लिया गया है।  बैहल से टोबा और भाखड़ा जाने वाले सपर्क सड़क जगह जगह हुए भूस्खलन के कारण बन्द हो चुकी है। बैहल के चिकनी खड्ड पर चार दिन पहले फिर से तैयार किया गया वैकल्पिक पुल बारिश के कारण बह गया है। वहीं धरोट की सिंचाई व पेयजल के लिये बिछाई गई सारी पाईपलाइन जगह जगह से टूट कर क्षतिग्रस्त हो गई है।
   ग्राम पंचायत भाखड़ा के प्रधान प्रभात चंदेल व ग्राम पंचायत धरोट के प्रधान अवतार कृष्ण ने उपमंडल स्वारघाट प्रशांसन से प्रभावित क्षेत्रों का जल्द दौरा करने व राहत पहुंचाने का आग्रह किया है।
   स्वारघाट थाना की पुलिस व लोक निर्माण विभाग की टीम नेशनल हाईवे सड़क को बहाल करने के लिये जुटी हुई है। जेसीबी के माध्यम से नेशनल हाईवे पर गिरे हुए मलबे व पत्थरों को हटाया जा रहा है।

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें