Loading...

राजकीय सम्मान के साथ दी गई शहीद राजेश ऋषि को अंतिम विदाई

Edited By: सुरिन्द्र सिंह सोनी,नालागढ़
अपडेटेड: 8 months ago IST

नालागढ़ के सैनिक राजेश कुमार का राजकीय सम्मान के साथ सैनिक के पैतृत्व गांव जोंगों किया गया  अंतिम संस्कार ! सुबह से क्षेत्र में शोक की लहर थी सैनिक राजेश कुमार के घर के आगे लोगों की भारी  भीड़ जमा होनी शुरू हो गयी थी  जैसे की किन्नौर को नामज्ञा डोगरी में हिमस्खलन में दबे पांच जवानों में से एक राजेश ऋषि का तिरंगे में लिपटा पुरे रजकीय सम्मान के साथ सैनिक का शव उनके पैतृक गांव पहुंच गया है।वहां पर जमा लोगों व् रिस्तेदारो ने भारत माता की जय के साथ नम आँखों से सैनिक  25 वर्षीय राजेश ऋषि की अंतिम दर्शन के लिए जुट गए थे इस दौरान सैनिक राजेश की पत्नी माता पिता व् रिश्तेदारों का रो रो कर बुरा हाल था 

शहीद का शव शुक्रवार को 11 दिन बाद बरामद किया गया था। उनके शव को हवाई मार्ग से नालागढ़ पहुंचाया जाना था, लेकिन मौसम खराब होने के कारण शव सड़क मार्ग से जोंघो जगतपुर पहुंचाया।

बता दें कि शिपकिला बॉर्डर से लगते नामज्ञा डोगरी के पास 20 फरवरी को ग्लेशियर खिसकने से नियमित गश्त पर निकले जम्मू-कश्मीर राइफल्स के 16 सैनिकों में से छह बर्फ में दब गए थे। हादसे में दबे हवलदार राकेश कुमार (41) को बाहर निकाल लिया गया पर वह शहीद हो गए। अंतिम संस्कार के समय नालागढ़ के विधायक राणा लखविंदर सिंह पूर्व विधायक के एल  ठाकुर 
नालागढ़ प्रसाशन के तरफ से SDM प्रशांत देष्टा व् नायव तहसीलदार डी आर कश्यप पुलिस जिला SP रोहित मालपानी DSP चमन लाल सहित नालागढ़ के तमाम अधिकारी मौजूद रहे 

पुलिस व् सेना के जवानो ने सलामी दी 
नालागढ़ के विधायक राणा लखविंदर ने कहा की सैनिक के शहीद होने पर गहरा दुःख जताया और सरकार से उनके परिवार के सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाये। सैनिक कल्याण बोर्ड के डारेक्टर ने आश्वाशन देते हुए कहा की सरकार की तरफ से उनके परिवार को हरसंभब सहायता की जाएगी 

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें