Loading...

हिमखंड में दबे नालागढ़ के जवान राजेश का 8वें दिन भी नहीं लगा कोई सुराग, पत्नी सहित परिजन सदमे में

Edited By: सुरिन्द्र सिंह सोनी,नालागढ़
अपडेटेड: 5 months ago IST

नालागढ़ के तहत जोंगो गांव के सैनिक राजेश के ग्लेशियर के नीचे द्वे होने के एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी कोई सुराग नहीं लगा | परिजनों की  सरकार द्वारा किये गए राहत कार्यो के प्रति गहरी  नाराजगी जताई और सैनिक की पत्नी सहित परिजन सदमे में | 

सैनिक के परिजनों व् पत्नी ने सरकार से मांग करते हुए कहा की प्रसाशन की तरफ से उन्हें सिर्फ एक बार जानकारी दी गयी ! और अभी तक कोई भी जानकारी दी जा रही और उन्हें जानकारी दी जाये और राहत कार्य को और तेज किया जाये सैनिक राजेश की शादी करीव तीन माह पहले ही शादी हुई थी और इसके घर में माता पिता के आलावा सैनिक का भाई है माता और भाई साधारण है।

आप को बता दे की बुधवार को सेना के 6 जवान डयूटी के दौरान ग्लेशियर की चपेट में आ गए थे।जिसमे से एक नालागढ़ के जोगों के सैनिक राजेश कुमार भी शामिल था  घटना सीमा पर किन्नौर के शिपकीला के पास हुई थी। पहले 1 जवान को बर्फ से निकाला गया था, जिसकी उपचार के दौरान मौत हो गई थी। बाकी बचे जवानों का अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है ।
वही जब SDM नालागढ़ प्रशांत देष्टा से बात हुई तो उन्होंने कहा की हमारी रोजाना वहां के पशासन , अधिकारिओं से बात इस बारे में बात होती है | और इस बारे में जानकारी लेते रहते है | जो भी संभव होगा वो करेंगे |

Subscribe Our Channel for latest News:

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें