Loading...

बेटी का पहला बर्थडे मनाकर ड्यूटी पर गया था शहीद मनोज कुमार

Edited By: हिमाचल एक्सप्रेस डेस्क
अपडेटेड: 9 months ago IST

ओडिशा में कटक के पास रतनपुर गांव के कॉन्स्टेबल मनोज कुमार बेहेरा भी आतंकी हमले में 40 शहीदों में से एक हैं। पति के शहीद होने की खबर सुनकर बेसुध हो चुकीं उनकी पत्नी इतिलता ने बताया कि घटना से पहले तड़के ही मनोज ने कॉल किया था और अपनी लोकेशन की जानकारी देकर वापस फोन करने को कहा था। लेकिन कुछ घंटों बाद पुलवामा में उनके शहीद होने की खबर सुनकर विश्वास ही नहीं हो रहा है। मनोज कुमार ने 2006 में सीआरपीएफ ज्वाइन किया था। जनवरी 2017 में उसने इतिलता से शादी की थी और उसकी एक साल की बेटी है। 16 जनवरी को उसने बेटी का पहला जन्मदिन मनाया था और छह फरवरी को वो वापस ड्यूटी पर कश्मीर चला गया था। 

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें