Loading...

खैरा को मिला मारखुड़े बैल से छुटकारा, लोगों ने ख़ुशी प्रगट की

Edited By: सन्नी घीमान, खैरा
अपडेटेड: one year ago IST

सरकार द्वारा बेसहारा गौबंश के लिए कई योजनायें चलाई जा रही हैं लेकिन स्थानीय प्रशासन इस और कोई ध्यान नहीं दे रहा ! इन बेसहारा पशुओं की बदौलत लोगों की जान पर बन आती है और प्रशासन मूकदर्शक बनकर देखता रहता है और खबर छपने पर हरकत में आता है ! जिसका एक उदाहरण खैरा में देखने को मिला जब एक बेसहारा बैल लोगों के लिए मुसीबत का सबब बन गया जिसने कई लोगों को घायल कर दिया ! खैर खबर छपने के बाद प्रशासन हरकत में आया तथा सांड को पकड कर ट्रक द्वारा ले जाकर आतंक से मुक्ति दिलाई जिसके लिए सुलह के पूर्व विधायक जगजीवन पाल ने और खैरा के लोगों ने ख़ुशी प्रगट की।

Subscribe Our Channel for latest News:

Loading...

Loading...

loading...

अन्य ख़बरें