Loading...

20 लाख दो वरना करूंगी रेप का केस, जेएसआईसी कोर्ट में तैनात कर्मी ने किया सुसाइड

Edited By: हिमाचल एक्सप्रेस डेस्क
अपडेटेड: 2 months ago IST

नाहन शहर के सदर थाना में सनसनीखेज मामला सामने आया है। सुसाइड के तीन दिन बाद मृतक की पत्नी को मिले नोट में इसका खुलासा हुआ है। शिलाई के जेएसआईसी कोर्ट में तैनात चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी योगेश के सुसाइड मामले में पुलिस ने एक महिला सहित दो सरकारी कर्मचारियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला आईपीसी की धारा 306, 34 के तहत दर्ज किया है। 

बता दें कि सिरमौर जिला के शिलाई उपमंडल के जेएमआईसी कोर्ट शिलाई में तैनात क्लास फोर कर्मचारी योगेश कुमार ने 11 मई को नाहन में जहरीला पदार्थ निगल कर आत्महत्या कर ली थी। मामले ने नया मोड़ तब लिया, जब वाल्मीकि मोहल्ला के रहने वाले योगेश की पत्नी किरण ने कच्चा टैंक पुलिस चौकी में घर से बरामद हुए अपने पति के सुसाइड नोट को पुलिस को सौंपा।

इसके बाद कच्चा टैंक पुलिस ने राजगढ़ निवासी एक महिला व दो व्यक्तियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर आगामी छानबीन शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि योगेश की पत्नी किरण को बिस्तर झाड़ते हुए बैडशीट के नीचे सुसाइड नोट मिला। हालांकि, सुसाइड के बाद पुलिस ने भी मौके पर छानबीन की थी, लेकिन उस दौरान सुसाइड नोट नहीं मिला था। उधर, सदर थाना के एसएचओ मानवेंद्र ठाकुर ने मामले की पुष्टि की है।

Subscribe Our Channel for latest News:

loading...

Loading...

अन्य ख़बरें